प्रकाशन

भारतीय होम्योपैथिक फार्माकोपिया

भारत सरकार ने 1962 में होम्योपैथिक फार्माकोपिया (भेषज संहिता) समिति का गठन निम्नलिखित उद्देश्य से किया था:

  1. अमेरिकी, जर्मन और ब्रिटिश होम्योपैथिक फार्माकोपिया की तर्ज पर,होम्योपैथिक दवाओं का भारत के अनुसार एक भारतीय होम्योपैथिक फार्माकोपिया तैयार करने के लिए।
  2. होम्योपैथिक दवाओं मानकों और बनाने की विधि को निर्धारित करने के लिए। 
  3. होम्योपैथिक दवाओं पहचान, गुणवत्ता, शुद्धता की जांच करने हेतु, तथा  
  4. होम्योपैथिक फार्माकोपिया से संबन्धित अन्य मामलेहेतु ।

होम्योपैथिक भेषज संहिता प्रयोगशाला द्वारा होम्योपैथिक दवाओ के निर्धारित किए गए मानकों को होम्योपैथिक फार्माकोपिया समिति द्वारा अनुमोदित करा के भारतीयहोम्योपैथिक फार्माकोपिया ऑफ इंडिया (एच.पी.आई.) मे प्रकाशित किया जाता है।

अब तक, होम्योपैथिक भेषज संहिता प्रयोगशाला द्वारा भारतीय होम्योपैथिक फार्माकोपिया के 10 संस्करणों को प्रकाशित किया गया है। इसके अलावा, होम्योपैथिक भेषज संहिता प्रयोगशाला द्वारा 101 होम्योपैथिक दवाओ के मानकों को "होम्योपैथिक फार्मास्यूटिकल कोडेक्स" के रूप में भी प्रकाशित किया गया है।

होम्यौपेथिक फार्माकोपिया प्रकाशन

पुस्तकालय

होम्योपैथिक भेषज संहिता प्रयोगशाला मे होम्योपैथी की प्राचीन और शास्त्रीय पुस्तकों से सुसज्जित एक पुस्तकालय भी है,जिसमे विभिन्न विषयों जैसे की फार्माकोग्नॉसी, रसायन विज्ञान, वानस्पतिक विज्ञान, सूक्ष्मजीवविज्ञान, होम्योपैथी, दवा मानकीकरण और गुणवत्ता नियंत्रकी,आदि विषयों की पुस्तकों का अच्छा संग्रह है।

Publication